Proxy Server Hacking Part3-Learn Ethical Hacking In Hindi

0

नमस्कार दोस्तों Learn Ethical Hacking In Hindi Part3-Proxy Server Hacking- में आपका सवागत है दोस्तों अगर आप हैकिंग सिख रहे तो पता ही होगा हम सब जानते है की हर कंप्यूटर का एक आएपी एड्रेस होता है यानि की हर इन्सान की जिस तरह एक अलग पहचान होता है ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर वर्ल्ड में ip एड्रेस कंप्यूटर की पहचान होता है प्रॉक्सी का मतलब होता है स्वयम के जगह किसी और को शो करना यानि अपनी पहचान को छुपाना| और किसी और की पहचान को दिखाना हैकिंग वर्ल्ड में हैकर साइबर सिक्यूरिटी से बचने के लिए proxy का सबसे जादा उसे करते है आइये डिटेल में समझते है|

WHAT IS PROXY Server Hacking

जब कोई Attacker किसी भी अपने टारगेट से directly कान्नेक्ट न होकर किसी प्रॉक्सी server के माध्यम से कान्नेक्ट होता है तो उसे proxy server कहते है जैसे जब आप ब्राउज़र से किसी भी वेबसाइट को visit करते है तो आपका कंप्यूटर आपके ip address पर send करता है इसी वजह से वह वेबसाइट आपके कंप्यूटर पर open होता है पर प्रॉक्सी use करने पर वेबसाइट पहले प्रॉक्सी के साथ कनेक्ट होता है इसके बाद आपको forward की जाती है इसी वजह से आपके रियल ip address को  सर्वर नहीं देख पाता है| Proxy Server की मदद से हैकर IP Address की Identify को आसानी से छुपा सकते है

 बल्कि जिस कंप्यूटर को as प्रॉक्सी use कर रहे है तो server उसके ip को ही देख पता है

जैसा की इमेज में देख ही सकते एक hacker जिस web server को हैक करना चाहता है तो directly कनेक्ट न हो कर एक प्रॉक्सी use करता है और प्रॉक्सी के माध्यम से कनेक्ट करता है तो इस वेब server में जो ip address पहुचेगा इसकी ip address डिफरेंट होगी| हो सकता है हैकर या attacker india से हो और उसका टारगेट USA में हो, जब वेबसर्वर के द्वारा इस ip को चेक किया जायेगा तो इसकी location उस प्रॉक्सी की होगी|

एक हैकर किसी टारगेट सिस्टम को हैक करने के लिए तिन तरीके का इस्तेमाल करता है

Direct Attack:- में किसी भी प्रकार का प्रॉक्सी का use नहीं होता है इस तरह के अटैक suicide हैकर करते है जिन्हें कुछ भी hacking के बारे में पता नहीं होता है वो पकडे जाते है

Logged proxy :- में सिर्फ एक प्रॉक्सी का use किया जाता है

proxy chaining:- इस प्रॉक्सी में अलग अलग location की प्रॉक्सी use की जाती है जैसे हो सकता है की पहली location की प्रॉक्सी अमीरका हो और दूसरी रसिया तीसरी चोथी कैनेडा | प्रॉक्सी सब अलग अलग देश की location को use करता है इतने प्रॉक्सी से होकर अपने victim तक पंहुचा जाता है| इसमें जब साइबर सिक्यूरिटी की तरफ से एस hacking को जाचा जायेगा तो वो हैकर कभी पकड़ में नहीं आएगा क्योकि एक प्रॉक्सी किसी दुसरे प्रॉक्सी का ip show करेगा फिर दूसरा प्रॉक्सी तीसरे का ये लेवेल कितना भी हो सकता है|  इस तरह के प्रॉक्सी का use बहुत बड़े हैकर करते है जिन्हें hacking में बहुत जानकारी होती है| इस तरह के प्रॉक्सी blackhat हैकर करते है

आइये practically जानते है कुछ ऐसी वेबसाइट है जहा आप फ्री में use कर सकते है

www.anonymizer.com

www.hideme/proxy

www.hidemyass.com

Step 1 सबसे पहले www.anonymizer.com open करे

Proxy Tools

  1. Proxy Workbench
  2. Proxyfier
  3. Proxy Switcher
  4. Sockschain
  5. 5. TOR (The Onion Routing)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here